Skip to main content

Posts

Showing posts from May, 2022

26.चार्टर अधिनियम 1813.

IGNOU MA HISTORY 1ST YEAR.MHI 04 IGNOU MODEL QUESTION ANSWER. 26. चार्टर अधिनियम  1813.(250 शब्दों में जवाब दें) 1813 के चार्टर अधिनियम के तहत मिशनरियों के लिए क्या व्यवस्था किया गया? यह व्यवस्था किया गया कि यदि कोई उपयोगी ज्ञान,धार्मिक सुधार, नैतिक सुधार लाने के उद्देश्य से भारत जाना और रहना चाहता है तो वह जा सकता है। इस प्रकार से भारत जाने वाले लोगों को किस संस्था से आज्ञा लेनी होती थी? कोर्ट ऑफ डायरेक्टर से।यदि कोर्ट ऑफ डायरेक्टर आवेदन को अस्वीकार कर देगा तो इसका निपटारा बोर्ड ऑफ कंट्रोल करेगा। भारतीयों के शिक्षा के प्रति ईस्ट इंडिया कम्पनी ने पहली बार किस चार्टर अधिनियम के तहत जिम्मेदारी ली?ऐसा कैसे कहा जा सकता है? भारतीयों के शिक्षा के प्रति ईस्ट इंडिया कम्पनी ने पहली बार  चार्टर अधिनियम 1813 के तहत जिम्मेदारी ली।ऐसा इसलिए कहा जा सकता है क्योंकि इसके पहले     आधिकारिक रूप से भारतीयों के शिक्षा के लिए कोई पहल नही की गई थी। 1813 चार्टर अधिनियम के तहत शिक्षा से संबंधित क्या प्रावधान किए गए? भारत के ब्रिटिश क्षेत्रों के निवासियों में नवजागरण, साहित्य के विकास, विज्ञान को बढ़ावा देने के

8वीं से 12वीं शताब्दियों के मध्य प्रायद्वीपीय भारत में स्थानीय राजनीतिक संगठन की प्रकृति की चर्चा कीजिए । (500 शब्दो मे उतर दें।)

7.8वीं से 12वीं शताब्दियों के मध्य प्रायद्वीपीय भारत में स्थानीय राजनीतिक संगठन की प्रकृति की चर्चा कीजिए । ( 500 शब्दो मे उतर दें।) 8वीं से 12वीं शताब्दियों के मध्य प्रायद्वीपीय भारत में स्थानीय स्तर पर किस वर्ग के लोगों का शासन था? 8वीं से 12वीं शताब्दियों के मध्य प्रायद्वीपीय भारत में स्थानीय स्तर पर स्थानीय प्रमुख होते थे।इस काल मे केंद्रीय स्तर पर तीन प्रमुख शक्ति चेर,चोल और पाण्ड्य थे ।इनके बाद स्थानीय स्तर पर स्थानीय मुखिया आते थे। कहने का मतलब ये स्थानीय मुखिया चेर,चोल और पाण्ड्य राजाओं के सामंत थे जो काफी समृद्ध और भूमिसम्पन्न थे? जी नही।ये राजाओं के सामन्त नही थे।इनकी स्थिति पूर्व के  संगम काल के मुखिया के समान थी।इन्होंने चेर,चोल और पाण्ड्य राजाओं का अधिपत्य स्वीकार किया हुआ था। इन राजाओं के आधिपत्य में ये मुखिया कैसे आए? यह चेर,चोल और पाण्ड्य  राजाओं के विस्तार की नीति का परिणाम हो सकता है। 8वीं से 12वीं शताब्दियों के मध्य प्रायद्वीपीय भारत में स्थानीय मुखियाओं की स्थिति एक जैसी नही थी।इनमे क्या अंतर था? उनके क्षेत्रों का आकार एक सा नही था-कुछ का नियंत्रण विशाल क्षेत्रों पर

भारत में औपनिवेशिक राज्य पर टिप्पणी लिखिए।(500 शब्दो मे उतर दें।)

MHI 04.IGNOU MA 1ST YEAR MODEL QUESTION ANSWER. 14.भारत में औपनिवेशिक राज्य पर टिप्पणी लिखिए। ( 500 शब्दो मे उतर दें।) भारत मे ब्रिटिश औपनिवेशिक राज्य का स्वरूप पूर्व के राज्य व्यवस्था से दो बातों में भिन्न था।कैसे? औपनिवेशिक राज्य में सैन्य शक्ति को सुसंगठित किया गया।और दूसरा,भारत से आर्थिक संसाधनों को अलग तौर तरीकों से उगाहा गया। अंग्रेजों ने भारत मे औपनिवेशिक शासक को कायम रखने के लिए किन तरीकों का सहारा लिया? सभी तरह के संभव तरीकों जैसे कि साम,दाम दंड और भेद का सहारा लिया।लेकिन चूँकि ये बाहरी शक्ति थे और इनका प्रमुख उद्देश्य अपना लाभ था जो इन्हें किसी भी कीमत पर जैसे की अति शोषण से भी प्राप्त करना था।अतः मूल निवासियों के तरफ से विरोध और विद्रोह भी स्वाभाविक था।इन स्थितियों से निपटने के लिए बल और दमन का सहारा औपनिवेशिक शासन द्वारा लिया गया।उदाहरण के लिए पंजाब के कुका विद्रोहियों को गोली मार दी गयी,तोप से बांधकर उड़ा दिया गया,जलियांवाला बाग में भी इसी तरह के क्रूर कृत्य को अंजाम दिया गया। औपनिवेशिक शासन क्रूर था और क्रूरता का बहुत ज्यादा सहारा लिया।लेकिन किस तरह का बहाना बनाकर लंबे समय

25.भारत में ब्रिटिश द्वारा लागू किए गए भू-राजस्व बंदोबस्तों का आलोचनात्मक परीक्षण कीजिए।

MHI 04.Ignou MA 1ST YEAR HISTORY MODEL QUESTION ANSWER. 25.भारत में ब्रिटिश द्वारा लागू किए गए भू-राजस्व बंदोबस्तों का आलोचनात्मक परीक्षण कीजिए। स्थायी बंदोबस्त। स्थायी बंदोबस्त के तहत भू-स्वामित्व और लगान वसूली के अधिकार जमींदारों को दिए गए।ये जमींदार कैसे पनपें? ये जमींदार वैसे थे जो बंगाल में नवाब के द्वारा भू राजस्व वसूल करने के लिए अधिकृत थे और कुछ ऐसे जमींदार भी थे जिन्होंने भू राजस्व वसूल करने का ठेका अंग्रेजों से प्राप्त किया हुआ था। स्थायी बंदोबस्त का विस्तार किन किन क्षेत्रो में हुआ ? स्थायी बंदोबस्त का विस्तार 1793 में बंगाल में हुआ तथा बाद में मद्रास और उत्तर-पश्चिम के क्षेत्रों में भी हुआ। स्थायी बंदोबस्त के तहत जमींदारों को भूमि का स्वामित्व दे दिया गया।किस शर्त पर जमींदारों को भूमि का स्वामित्व दिया गया? जमींदारों को भूमि का स्वामी तब तक माना जायेगा जब तक ये जमींदार एक निश्चित लगान कम्पनी को देते रहेंगे।यह लगान कुल निश्चित राशि का 10/11 भाग होता था तथा 1/11 भाग जमींदार अपने पास रखता था। लगान न देने की स्थिति में जमींदारों से उनकी जमींदारी छीन ली जाती थी। जमीन पर जमींदारो

One liner gk 92.upsc ssc static gk series.

One liner gk 92.upsc ssc static gk series. One liner GK UPSC PRE HUNTER SERIES के सभी पार्ट के लिए यहॉं क्लिक करें। सूडान की राजधानी कहाँ है? सूडान की राजधानी खारतूम है। आईनु जनजाति मुख्य रूप से कहाँ पाए जाते हैं? आईनु जनजाति मुख्य रूप से जापान में पाए जाते हैं। बहावी आंदोलन किसलिए चलाया गया था?  मुसलमानों पर  पाश्चात्य प्रभावों के विरुद्ध बहावी आंदोलन चलाया गया था। भारतीय वानस्पतिक सर्वेक्षण विभाग की स्थापना कब और कहाँ हुई? भारतीय वानस्पतिक सर्वेक्षण विभाग की स्थापना 1890 मे कोलकाता में हुई खमसिंन क्या है? खमसिंन सहारा मरुस्थल क्षेत्र में चलने वाली शुष्क गर्म हवा है। BHEL की स्थापना कब हुई? BHEL की स्थापना 1964 में हुई। किस देश के साथ भारत की सबसे लंबी थल सिमा रेखा है? बांग्लादेश के साथ भारत की सबसे लंबी सिमा रेखा है।इसकी  लम्बाई 4096 किलोमीटर है। वैदिक काल को कितने भागों में बांटा जाता है?उनके काल के साथ बताइये। वैदिक काल को दो भागों में बांटा जाता है। 1.ऋग्वेदिक काल (1500 ई. पू. से 1000 ई. पू.)   2.उत्तर वैदिक काल (1000 ई. पू. से 600 ई. पू.) घाघरा नदी का उद्गम स्थल कहाँ है? राक्षसता

19.MHI 04.IGNOU MA 1ST YEAR..दिल्ली सुलतानों के केन्द्रीय प्रशासन का वर्णन कीजिए।

प्रश्न:-दिल्ली सुलतानों के केन्द्रीय प्रशासन का वर्णन कीजिए। उतर:-निम्नलिखित पॉइंट्स को विस्तारित करें। विद्यार्थी ध्यान दें।इस पेज को आगे अपडेट किया जाएगा। केंद्रीय प्रशासन। केंद्रीय प्रशासन किनके द्वारा चलाया जाता था? भरोसेमंद गुलामों द्वारा। केंद्रीय प्रशासकों की नियुक्ति कौन करता था? सुल्तान। ये प्रशासक कौन हुआ करते थे जिसे सुल्तान केंद्रीय प्रशासन में नियुक्त करता था? इन्होंने गद्दी हासिल करने में सुल्तान की मदद किया था। केंद्रीय प्रशासन का कार्य गुलाम के अलावे और कौन लोग देखते थे? शाही घराने और शाही खानदान के लोग। प्रशासन का प्रमुख कौन होता था? सुल्तान। प्रशासन के अंतर्गत कौन कौन से विभाग होता था? विजारत। दीवान ए अर्ज। नाइब उल मुल्क। दीवान ए इंशा। दीवान ए रियासत। दीवान ए रिसालत। दीवान ए कादा। दीवान ए मज़ालिम। कुछ छोटे विभाग। दीवान ए विजारत। सुल्तान के ओहदे के बाद सबसे महत्वपूर्ण पद कौन सा था? वजीर। दीवान ए वजारत का प्रमुख कौन होता था? वजीर। सुल्तान का प्रमुख सलाहकार कौन होता था? वजीर। वजीर और दीवान-ए-वजारत सल्तनत की सबसे महत्वपूर्ण संस्था थी।कैसे?तीन कारण बताएं। शासक तक सीधी पहुँच

उत्तर मौर्य काल के दौरान उत्तर भारत में प्रशासनिक व्यवस्था का वर्णन कीजिए।(500 शब्दो मे उतर दें।)

उत्तर मौर्य काल के दौरान उत्तर भारत में प्रशासनिक व्यवस्था का वर्णन कीजिए।(500 शब्दो मे उतर दें।) मौर्य साम्राज्य का पतन कब हुआ और इसके तुरंत बाद मौर्यों के क्षेत्र में प्रमुख राजनैतिक शक्ति किनके पास आई? 187 ईसवी पूर्व में मौर्य साम्राज्य का पतन हो गया। इसके बाद इस राज्य में कई राजनीतिक शक्तियां उभरी। कहने का मतलब उस समय कोई भी सर्वोच्च राजनैतिक शक्ति नहीं थी। मौर्यों के पतन के बाद भारत में किन राजनीतिक शक्तियों का आगमन हुआ? मौर्यों  के पतन के बाद भारत मे उत्तर पश्चिम सीमा क्षेत्र से यवन,शक व कुषाणों ने भारत में प्रवेश किया और अपना नियंत्रण स्थापित किया। मौर्यों के पतन के बाद उस क्षेत्र में राजनैतिक व्यवस्था किस प्रकार की थी उत्तर मौर्य काल में राजनैतिक व्यवस्था के रूप में राजतंत्र ही प्रचलित रहा।उतर मौर्य काल मे कुषाण साम्राज्य में संयुक्त शासन भी प्रचलित था। संयुक्त शासक का क्या तात्पर्य था?क्या इससे उत्तराधिकार युद्ध की संभावना नही रहती थी? यह व्यवस्था कुषाण शासकों में थी। संयुक्त शासक का मतलब था गद्दी पर आसीन शासक के अलावे एक सह शासक का अस्तित्व जो भविष्य में शासक हुआ करता था।उदाह

One liner gk 91.upsc ssc static gk series.

One liner gk 91.upsc ssc static gk series. One liner GK UPSC PRE HUNTER SERIES के सभी पार्ट के लिए यहॉं क्लिक करें। भारत का कौन सा राज्य भारत कुल रबर उत्पादन का लगभग 85-90% रबर का उत्पादन करता है? केरल भारत के कुल रबर उत्पादन का लगभग 85-90% रबर का उत्पादन करता है। काकेशियन प्रजाति के मानवों के त्वचा का रंग कैसा होता है? काकेशियन प्रजाति के मानवों के त्वचा का रंग श्वेत या गोरा होता है। भारत मे साइकिल उद्योग की शुरुआत कब हुई? भारत मे साइकिल उद्योग की शुरुआत 1938 में हुई जब मेसर्स इंडिया मैनुफैक्चरिंग कंपनी की स्थापना कोलकाता में हुई। 'शिवभक्त चरितम्' में किनका वर्णन है? ' शिवभक्त चरितम्' में शिव भक्ति में लीन तमिलनाडु के नयनार संतो वर्णन है। ENVISTATS INDIA रिपोर्ट कौन सी संस्था प्रकाशित करती है? National Statistical Office (NSO) अर्थात राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय ENVISTATS INDIA रिपोर्ट प्रकाशित करती है। 7 अगस्त 1905 को बंगाल विभाजन के विरोध में स्वदेशी आंदोलन प्रारंभ करने की घोषणा की गयी।बताइये की यह घोषणा किस स्थान से की गई? कलकत्ता के टाउन हाल में 7 अगस्त 1905 को स्व

सविनय अवज्ञा आन्दोलन और दांडी मार्च।savinay awagya andolan.

सविनय अवज्ञा आन्दोलन और दांडी मार्च।savinay awagya andolan.सविनय अवज्ञा आंदोलन के बारे में सबकुछ। इस पेज को आगे भी अपडेट करते रहा जाएगा।ऐसा विद्यार्थियों के हित में किया जा रहा है।किसी भी टॉपिक के बारे में आरम्भ में हल्की जानकारी दी जाती है जिसे बाद में धीरे धीरे अपडेट करते रहने से विद्यार्थियों के ऊपर ज्यादा बोझ भी नही बनता और सम्पूर्ण सामग्री आसानी से समझ लिया जाता है। सविनय अवज्ञा आंदोलन किनके नेतृत्व में आरंभ किया गया?  सविनय अवज्ञा आंदोलन महात्मा गांधी के नेतृत्व में सन 1930 में आरंभ किया गया। सविनय अवज्ञा आंदोलन से महिलाओं ने तटस्थता दिखाई और आंदोलन में भाग नही लिया।कथन सही है या गलत? कथन गलत है।सविनय अवज्ञा आंदोलन में लाखों की संख्या में महिलाओं ने भाग लिया। सविनय अवज्ञा आंदोलन के दौरान घटित प्रसिद्ध दांडी मार्च कब आरंभ किया गया?  दांडी मार्च 12 मार्च 1930 को आरंभ किया गया। दांडी मार्च में आरंभ में गांधी जी के साथ कितने लोगों ने हिस्सा लिया? दांडी मार्च के आरंभ में 78 लोगों ने  हिस्सा लिया। महात्मा गांधी जी के डांडी मार्च के समर्थन में दांडी मार्च के तरह ही सी.राजगोपालाचारी ने भ

विषाणु।upsc/ssc study material.

विषाणु।upsc/ssc study material.विषाणु के बारे में सब कुछ। ध्यान दीजिये की इस पेज को आगे भी अपडेट करते रहे जाएगा। विषाणु के खोजकर्ता कौन हैं? विषाणु के खोजकर्ता हैं इवानवस्की।ये एक रूसी वैज्ञानिक थे। विषाणु सजीव होते हैं या निर्जीव? जब विषाणु किसी अन्य जीवित कोशिका में होते हैं तो ये सजीव हो जाते हैं और अपनी संख्या में वृद्धि भी करते हैं लेकिन जीवित कोशिका से बाहर ये मृत और निर्जीव रहते हैं।ये जीवित कोशिका के बाहर सैकड़ो या हजारों वर्षों तक निर्जीव पड़े रह सकते हैं और वापस सजीव कोशिका में आने पर पुनर्जीवित हो जाते हैं। क्या सारे विषाणु किसी जीवित कोशिका के बाहर हज़ारों साल तक रह सकते हैं और वापस जीवित कोशिका में आने पर सक्रिय हो सकते हैं? जी नही।कुछ वायरस(विषाणु) हज़ारों साल तक जीवित कोशिका के बाहर रह सकते है तो कुछ वायरस जैसे कि HIV VIRUS जो कि एड्स के कारक हैं,मनुष्य कोशिका के बाहर कुछ ही समय मे मृत हो जाते हैं और वापस जीवित कोशिका में जाने पर सक्रिय नही हो पाते। विषाणु एककोशिकीय जीव हैं या बहुकोशिकीय? विषाणु न तो एककोशिकीय और न ही बहुकोशिकीय जीव हैं।ये अकोशिकीय जीव हैं।

RESERVE BANK OF INDIA.भारतीय रिज़र्व बैंक के बारे में सब कुछ।

RESERVE BANK OF INDIA.भारतीय रिज़र्व बैंक के बारे में सब कुछ। ध्यान दीजिये की इस पेज को आगे भी अपडेट करते रहे जाएगा। "रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया(RBI)" की स्थापना कब हुई? रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया की स्थापना 01 अप्रैल 1935 को हुई थी। RBI का मुख्यालय कहाँ है? RBI का मुख्यालय मुम्बई में स्थित है। RBI का राष्ट्रीयकरण कब किया गया? RBI का राष्ट्रीयकरण 1949 में किया गया।इसके पहले यह निजी था। भारत मे करेंसी और सिक्कों को जारी और नष्ट करने की शक्ति किसके पास है? भारत मे करेंसी और सिक्कों को जारी करने की शक्ति RBI के पास है और जब सिक्के और नोट चलन के योग्य नही रहते तो उसे नष्ट करने की शक्ति भी RBI के पास ही है। RBI के क्या-क्या जिम्मेदारी है? RBI के निम्नलिखित जिम्मेदारी है:- RBI भारत का मौद्रिक प्राधिकारी होता है। RBI विदेशी मुद्रा का प्रबंधन करता है। RBI वितीय प्रणाली का विनियामक और पर्यवेक्षक होता है। RBI के पास मुद्रा जारी करने की शक्ति होती है।

ग्रेशम का नियम क्या है?

ग्रेशम का नियम क्या है? ग्रेशम के नियम के अनुसार बुरी मुद्रा अछि मुद्रा को प्रचलन से बाहर कर देती हैं। ग्रेशम के नियम का उदाहरण दीजिये। मान लीजिए कि आपके पास दो सिक्के हैं जिनका मूल्य 10 रुपया है।इनमें से दोनों सिक्का सोने का बना है।आप दुकान पर जाकर एक कलम खरीदते हैं और दुकानदार आपसे 10 रुपये का मांग करता है।ऐसी स्थिति में बहुत ज्यादा संभावना है कि आप दुकानदार को वही सिक्का देंगे जो पुराना होगा या घीसा पीटा होगा जबकि दोनों सिक्के का मूल्य 10 रुपया ही है। सामान्य व्यवहार में भी लोग फटे-पुराने नोट और घिसे-पिटे सिक्के को दूसरे को देते हैं और अच्छे सिक्के को अपने पास रखते हैं। इससे होता यह है कि अच्छे सिक्के तो लोगों के पास संग्रहित हो जाते हैं और पुराने सिक्के बाजार में प्रचलित रहती है। "ग्रेशम का नियम" नाम कैसे पड़ा? सर थॉमस ग्रेशम ने ग्रेशम के नियम का प्रतिपादन किया था जिसके नाम के आधार पर ग्रेशम का नियम नाम प्रचलित हुआ। ट्यूडर वंस किस देश से संबंधित है? फिलहाल बस इतना जान लो कि हेनरी सप्तम(1483) से लेकर एलिज़ाबेथ प्रथम(1603) तक के इंग्लैंड के राजा ट्यूडर वंस के ही थे।एलिजाबेथ प

NATO में कितने देश शामिल हैं?

NATO(North Atlantic Treaty Organization) में कितने देश शामिल हैं?नाटो के बारे में सबकुछ। NATO में कितने देश शामिल हैं? NATO में कुल 30 देश शामिल हैं। NATO में शामिल 30 देश कौन कौन से हैं? ये देश हैं:-USA, UK, तुर्की,स्पेन,अल्बानिया,बेल्जियम, बुल्गारिया,कनाडा,क्रोएशिया, चेक गणराज्य,डेनमार्क,एस्तोनिया,फ्रांस,जर्मनी,ग्रीस,हंगरी, आइसलैंड,इटली,लातविया,लिथुआनिया,लक्समबर्ग,मोंटेनेग्रो,नीदरलैंड, नार्थ मैसेडोनिया,नॉर्वे,पोलैंड,पुर्तगाल, रोमानिया,स्लोवाकिया, स्लोवेनिया। NATO का पूरा नाम क्या है? NATO का पूरा नाम है:-NORTH ATLANTIC TREATY ORGANIZATION. NATO की स्थापना कब हुई थी? NATO की स्थापना 04 अप्रैल 1949 को हुई थी। NATO में किन किन महादेशों के देश शामिल हैं? नाटो में 30 देश शामिल हैं जिनमे से 28 यूरोप के हैं और 2 उतरी अमेरिका के हैं।